siddartha gupta Banner
siddartha gupta

siddartha gupta

new delhi, IN

siddartha gupta Banner
siddartha gupta

siddartha gupta

  new delhi, IN

Hindi War Poem
18

Hero Motivational Speaker Narrator Warrior Brave Proud India (Hindi)

Category
Audiobooks
Language
Hindi
Voice Age
Young Adult
Description

This is a poem about a war between brave Maharana Pratap against the Mughals.
Lyrics are below:
बकरों से बाघ लड़े¸
भिड़ गये सिंह मृग–छौनों से।
घोड़े गिर पड़े गिरे हाथी¸
पैदल बिछ गये बिछौनों से।।1।।

हाथी से हाथी जूझ पड़े¸
भिड़ गये सवार सवारों से।
घोड़ों पर घोड़े टूट पड़े¸
तलवार लड़ी तलवारों से।।2।।

हय–रूण्ड गिरे¸ गज–मुण्ड गिरे¸
कट–कट अवनी पर शुण्ड गिरे।
लड़ते–लड़ते अरि झुण्ड गिरे¸
भू पर हय विकल बितुण्ड गिरे।।3।।

क्षण महाप्रलय की बिजली सी¸
तलवार हाथ की तड़प–तड़प।
हय–गज–रथ–पैदल भगा भगा¸
लेती थी बैरी वीर हड़प।।4।।

Player Size

px

Player Type

Not implemented

Code

Copy and paste the code below into your website or blog.